कलाकारों को फ्रंटलाइन वर्कर मानें, सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन‌ करें और ज़िंदगियां बचाएं: CINTAA

तारक मेहता सीरियल के कुश शाह और तीन अन्य कलाकार कोरोना पॉजिटिव निकले… सुधांशु पांडे कोरोना पॉजिटिव होने के बाद घर से ही शूटिंग करेंगे… भोपाल में एक वेब सीरीज की शूटिंग में बिजी अनिरुद्ध दवे की हालत चिंताजनक है… एक्टर और एंकर श्री प्रदा कोविड से जुड़ी जटिलताओं के चलते चल बसीं… मराठी और हिंदी फिल्मों की अभिनेत्री अभिलाषा पाटिल भी कोरोना का शिकार हो गईं… कोरोना पॉजिटिव साबित हुईं तसनीम शेख कहती हैं कि पहले दिन उनके लिए बेहद तकलीफ़देह थे… हाल ही में बनीं इस तरह की सुर्ख़ियों ने कलाकारों को स्तब्ध करके रख दिया है. अक्षय कुमार,‌आमिर खान, कटरीना कैफ़, विक्की कौशल, भूमि पेडणेकर, रणबीर कपूर, आलिया भट्ट, रणवीर शौरी जैसे तमाम कलाकार कोरोना की चपेट में आ चुके है.

हाल ही में कोरोना की वजह से मौत का शिकार‌ हुए बिक्रमजीत सिंह की मिसाल सबसे ताजा है जिनका उदाहरण गौर करने लायक है. बिक्रमजीत और दो अन्य कलाकार एयरपोर्ट से साथ आए और साथ ही एयरपोर्ट वापस भी गये थे मगर सभी अलग-अलग होटल में रह रहे थे. इन सभी में एक बात समान थी कि वो सभी शूटिंग के दौरान लखनऊ में एक ही वैनिटी वैन का इस्तेमाल कर रहे थे. ऐसे में वे ख़ुद भी कोरोना का शिकार हुए और उनके परिजन भी इसकी चपेट में आ गये. दुर्भाग्यवश इनमें से एक को इसकी कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ी. इन मुश़्किल हालातों में और भी लोगों को जानें गई हैं.

सिने ऐंड टीवी एक्टर्स एसोसिएशन (CINTAA) ने महाराष्ट्र की सीमा के बाहर जाकर शूटिंग करने का फैसला लेने के लिए निर्माताओं और प्रोडक्शन हाउसों के निर्णयों का स्वागत किया है. मगर महाराष्ट्र के बाहर होनेवाली शूटिंग के दौरान कोविड से होनेवाली मौतों को लेकर‌ निर्माताओं को सक्रियता दिखाने और तमाम तरह के एहतियात को लेकर निर्माताओं को त्वरित क़दम उठाने के‌ लिए कहा है. CINTAA ने स्वास्थ्य और सुरक्षा से जुड़े तमाम प्रोटोकॉल को कड़ाई से लागू करने और SOP की एक कॉपी उनके सदस्यों द्वारा उनके साथ साझा करने की बात भी कही है ताकि किसी तरह की उपेक्षा की सूरत में इससे पूरी यूनिट पर पड़नेवाले इसके प्रभाव को जांचा जा सके.

CINTAA ने वायरस के नये स्ट्रेन के मद्देनज़र SOP को डिज़ाइन करने की भी अपील की है. नये स्ट्रेन में पहले RT-PCR टेस्ट नेगेटिव दिखने की आशंका रहती है. ऐसे में शूटिंग से पहले और बाद में कास्ट को आइसोलेशन में रहना पड़ता है. एक-दिन के लिए काम करनेवाले कलाकारों के लिए प्रोटोकॉल बनाने की मांग करते हुए CINTAA की ओर से कहा गया है कि ये सुनिश्चित किया जाए कि उन्हें लेकर ऐसी जगहों पर शूटिंग की जाए जहां पर मेडिकल इमरजेंसी होने की स्थिति में त्वरित रूप से उनके इलाज की व्यवस्था की जा सके अथवा उनके लिए सेट पर तमाम तरह की व्यवस्था की जाए. इसके अलावा आउटडोर शूटिंग से पहले कलाकारों का RT-PCR टेस्ट भी कराने की व्यवस्था हो.

CINTAA के प्रवक्ता का कहना है,‌ “ये बेहद अच्छी बात है कि टीवी शोज़ की शूटिंग बायो बबल में की जा रही है मगर जब तमाम एहतियात बरतने के बावजूद भी आईपीएल का सुरक्षित माने जानेवाला बायो बबल में भी सेंध लग चुकी है तो ऐसे में टीवी की दुनिया के इसकी चपेट में आने में ज्यादा वक्त नहीं लगेगा. कई कलाकार शूटिंग के लिए यहां-वहां आ-जा रहे हैं जिसके लिए वो एयरपोर्ट और फ्लाइट्स का इस्तेमाल भी कर रहे हैं. ऐसे में उनके लिए ख़तरा क‌ई गुना बढ़ जाता है.”

CINTAA यह भी जानना चाहती है कि क्या निर्माताओं ने‌ अपनी जान पर खेलकर शूटिंग करनेवाले सभी कलाकारों और तकनीशियन की हेल्थ इंश्योरेंस कराया है या नहीं? CINTAA का कहना है, “इलाज से जुड़े ख़र्च आसमां छू रहे हैं. ऐसे में सभी का हेल्थ इंश्योरेंस होना ज़रूरी है जिससे वर्करों पर किसी तरह का बोझ न पड़े.” उसका कहना है कि इस महामारी के खत्म होने तक 30 दिन के भीतर ही पेमेंट की व्यवस्था भी की जाए. CINTAA ने सालों से कलाकारों को न्यूनतम 3000 रुपये प्रति दिन के हिसाब से काम कराये जाने पर भी आपत्ति जताई है जिसमें कई बड़े प्रोडक्शन हाउसों का भी समावेश है. उन्होंने इस बात पर भी ऐतराज जताया है कि जो कलाकार इस महामारी के बीच शूटिंग करने के लिए तैयार नहीं हैं, उन्हें रातों-रात बिना किसी बातचीत के रीप्लेस किया जा रहा है. CINTAA का कहना, “ऐसे सभी कलाकरों को मुआवजा दिया जाना चाहिए. उसका कहना है, “ज़्यादातर निर्माताओं का कहना है सिने वर्कर फ़्रंटलाइन वर्कर हैं. लेकिन हम कहना चाहते हैं कि अगर कोई फ़्रंटलाइन वर्कर हैं तो वो कलाकार हैं क्योंकि उन्हें बिना मास्क लगाये शूटिंग करनी पड़ती है.‌ उन्हें मेक-अप आर्टिस्ट्स, स्टालिस्ट्स और तमाम लोगों के करीब जाना पड़ता है. ऐसे में उन्हें कोरोना होने का ख़तरा सबसे अधिक होता है. ऐसे में हम सभी हितधारकों से पूछना चाहते हैं कि अगर किसी कलाकार को कोरोना हो जाता है तो उसे लेकर किसकी नैतिक जिम्मेदारी बनती है? उनके इलाज, अस्पताल, इंश्योरेंस आदि से जुड़ा खर्च कौन उठाएगा? हम जानना चाहते है कि ऐसे में क्या ब्रॉडकास्टर, स्टूडियो, निर्माताओं से जुड़े एसोसिएशन अथवा निजी तौर पर कोई निर्माता इसकी ज़िम्मेदारी उठाने के लिए तैयार है?”

CINTAA ने सेहममंद माहौल में काम करने की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुए कहा कि वे सभी हितधारकों की चिंताओं को अच्छी तरह से समझते हैं लेकिन ऐसे किसी भी‌‌ मसले पर एसोसिएशन से चर्चा करनी ज़रूरी है क्योंकि कोरोना की दूसरी लहर पहली लहर से काफी ख़तरनाक है और आगे चलकर कलाकारों इससे भी अधिक ख़तरनाक तीसरी लहर का भी सामना करना पड़ सकता है. इस महामारी ने हमें भले ही सामाजिक तौर पर एक-दूसरे से दूर कर दिया हो मगर हम इस महामारी के खिलाफ एक-दूसरे के‌ साथ खड़े हैं और हमें उम्मीद है कि जल्द ही सबकुछ सामान्य हो जाएगा.”

CINTAA की एक्ज़ीक्यूटिव कमिटी ने यशराज फ़िल्म्स की पहल का भी स्वागत किया है. यशराज फ़िल्म्स ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को एक खत लिखकर FWICE के 30,000 पंजीकृत वर्करों को मुफ़्त में वैक्सीन लगाने का ऐलान करते हुए वैक्सीन की डोज उपलब्ध कराने की अपील सरकार से की है. उन्होंने इस बात की ओर भी ध्यान दिलाया है कि अगर कलाकार CINTAA से न भी जुड़े हों तो भी उन्हें भी 30,000 वर्करों के साथ इस मुहिम में शामिल किया जाए.

कोरोना की दूसरी लहर के बीच सलमान खान द्वारा 25,000 दिहाड़ी मजदूरों को 1500-1500 रुपये देने‌ के‌ ऐलान पर भी CINTAA ने खुशी जताई है. मगर उनकी चिंता इस बात को लेकर है कि इस पहल से CINTAA के कितने सदस्यों को इसका फ़ायदा मिलेगा.

CINTAA द्वारा एक-दिन के लिए काम करनेवाले कलाकारों के पक्ष में खड़ा होना बहुत मायने रखता है क्योंकि इस महामारी के दौरान बहुत सारे कलाकारों की हालत दिहाड़ी मजदूरों से भी बदत्तर हो जाती है. अगर वो अपने घरों में बंद रहते हैं तो वो गरीबी और भूख से मर जाएंगे. और अगर वो बिना वैक्सीनेशन और एहतियात के शूटिंग करते हैं तो कोरोना के चलते उनकी जानें जा सकती हैं. अफसोस की बात है कि मदद तो की जा रही है और इस तरह के कलाकारों को इसमें शामिल नहीं किया जा रहा है जबकि मौत का शिकार होनेवालों में ऐसे कलाकारों की संख्या सबसे ज्यादा है क्योंकि आजीविका की अनिश्चितता के अलावा इनपर ऐसी मुश्क़िल घड़ी में शूटिंग करने का रिस्क सबसे ज्यादा होता है. इन सभी बातों के मद्देनज़र CINTAA द्वारा उठाया गया क़दम बेहद अहम और कारगर है.

अधिक जानकारी के लिए अनुषा श्रीनिवासन अय्यर से संपर्क करें:
9820535230
9082798384.